उनींदा

मुझे नींद में ही रहने दो,गर मैं जाग उठा,तो बहुत से लोग,ज़रूर परेशां हो उठेंगे।

तेरा इंतज़ार

तेरे इंतज़ार में पूरी शाम काटी है मैंने कुछ यूँ,जैसे अगली साँस के इंतज़ार में … Read more

मिज़ाज़

पिछले दो दिनों से, जब से मैं शहर लौट कर आया हूँ, बहुत कुछ बदल … Read more