एक्स-गर्लफ्रेंड

रोज-रोज उसकी आती यादों में आँखों का पानी जलता है,
जब वो किसी और से मिलती है तो दिल से धुँआ निकलता है,
कभी रात भर जो हमसे मोबाइल पर बतयाती थी,
आजकल उसका नंबर डायल करने पर हमेशा व्यस्त मिलता है….

ये पोस्ट औरों को भेजिए -

5 thoughts on “एक्स-गर्लफ्रेंड”

  1. @संजयजी: अब देखिये न, सब कुछ कहने-सुनने के लिये ही तो रह गया है 🙂 धन्यवाद, आपको पंक्तियाँ पसंद आयीं.

    @सौरभजी: आवश्यकता नहीं है, अपना नंबर तो फ्री हो पहले 🙂

    Reply

Leave a Comment